Thelokjan

site logo

नेशनल वॉर मेमोरियल पहुंची Laal Singh Chaddha की टीम, आमिर खान समेत अन्य सितारों ने दी श्रद्धांजलि

‘लाल सिंह चड्ढा’ के रिलीज से पहले आमिर खान और फिल्म के अन्य कलाकार प्रमोशन में व्यस्त हैं। फिल्म 11 अगस्त को सिनेमाघरों में रिलीज होगी। आमिर की फिल्म को लेकर जबरदस्त बज बना हुआ है। एडवांस बुकिंग के आंकड़े भी फिल्म के पक्ष में है। इस बीच मंगलवार को ‘लाल सिंह चड्ढा‘ के कलाकार आमिर खान, नागा चैतन्य और मोना सिंह दिल्ली के नेशनल वॉर मेमोरियल पहुंचे। जहां सभी सितारों ने शहीदों को श्रद्धांजलि दी है। नागा चैतन्य ने तस्वीरों को अपने सोशल मीडिया पेज पर शेयर किया है।

टीम ने श्रद्धांजलि व्यक्त की

आमिर दोनों हाथ जोड़कर झुककर नमन करते दिख रहे हैं। आमिर के सामने कारगिल युद्ध में शहीदों के नाम वाली दीवार है। मोना सिंह और नागा चैतन्य भी उसी जगह खड़े होकर श्रद्धांजलि व्यक्त कर रहे हैं। नागा चैतन्य ने तस्वीरों को शेयर करते हुए कैप्शन में लिखा, ‘नेशनल वॉर मेमोरियल नई दिल्ली में लाल सिंह चड्ढा की टीम के साथ अच्छी सुबह बिताई। बहुत अच्छा अनुभव रहा।‘ 

सेना के अधिकारियों से मिले आमिर

आमिर वहां मौजूद सेना के अधिकारियों के साथ बात करते नजर आते हैं। फिल्म में आमिर पंजाब के रहने वाले एक व्यक्ति का किरदार निभा रहे हैं जो भारतीय सेना में शामिल होता है। जहां उसकी मुलाकात बाला से होती है। इस किरदार को नागा चैतन्य ने किया है। वह इस फिल्म से बॉलीवुड में डेब्यू कर रहे हैं।
 

कौन हैं निर्देशक और निर्माता

‘लाल सिंह चड्ढा‘ की कहानी को अतुल कुलकर्णी ने लिखा है। इसे अद्वैत चंदन ने निर्देशित किया है। फिल्म को आमिर खान प्रोडक्शंस और वायकॉम 18 स्टूडियोज ने मिलकर प्रोड्यूस किया है। 
 

Source

Must Read

Latest News

2017 से पहले जिन विद्यालयों में बच्चे आने से डरते थे, 6 वर्ष में वहां 55 से 60 लाख अतिरिक्त बच्चों की बढ़ी है संख्याः सीएम योगी

लखनऊ। 2017 से पहले बेसिक शिक्षा स्कूलों में बच्चे आने से डरते थे, लोगों में उत्साह नहीं था। स्कूलों में पेड़ों की जगह झाड़ियां जमा

फिजा के सदस्यों को पूरे यूपी के फिजियोथिरेपिस्ट देंगे मुफ्त परामर्श

द इंडियन एसोसिएशन ऑफ फिजियोथिरेपी और फेडरेशन ऑफ इंडियन जर्नलिस्ट्स एंड एक्टिविस्ट्स (फिजा) के संयुक्त तत्वावधान में रविवार को साकेत नगर स्थित एक होटल में

उत्तर प्रदेश- AI के जरिए बेसिक के बच्चे सीख रहे कविताएं एवं पहाड़े, शिवेंद्र ने तैयार किए AI शिक्षक

हरदोई। टेक्नोलॉजी जैसे जैसे एडवांस होती जा रही है, वैसे वैसे लोग भी इसका जमकर फायदा उठा रहे है। जहां पहले सरकारी स्कूलों की शिक्षा