Thelokjan

site logo

US में स्पीच के दौरान राहुल गाँधी ने साधा मोदी जी पर निशाना, कहा ” वे भगवान् को भी ज्ञान दे सकते हैं “

नई दिल्ली | अपनी अमेरिका यात्रा के दौरान कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, बीजेपी और आरएसएस को निशाना बनाया। अमेरिका के सैन फ़्रांसिस्को में भारतीय मूल के लोगों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि भारत में लोगों को एक ग्रुप ऐसा है, जिसे लगता है कि वे हर चीज़ जानते हैं।

राहुल गांधी 10 दिनों की अमेरिका यात्रा पर हैं। सैन फ़्रांसिक्को के बाद वे वॉशिंगटन डीसी और फिर न्यूयॉर्क जाएँगे।

संबोधन के दौरान सिख्स फ़ॉर जस्टिस (एसजेएफ़) से जुड़े कुछ लोगों ने खालिस्तान के समर्थन में नारेबाज़ी की और खालिस्तान का झंडा भी दिखाया. इंदिरा गांधी को लेकर भी नारेबाज़ी की गई। एसजेएफ़ का कहना है कि वो राहुल गांधी की हर सभा में जाएँगे और जब पीएम मोदी अमेरिका आएँगे, तो भी ऐसा ही करेंगे।

कुछ समय के लिए राहुल गांधी को अपना भाषण रोकना पड़ा। हालाँकि इसके बाद उन्होंने अपनी पुरानी बात दोहराई नफ़रत के बाज़ार में मोहब्बत की दुकान।

राहुल गांधी ने अपने संबोधन के दौरान पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए कहा – “ऐसे लोग भगवान के साथ बैठ कर उन्हें भी समझता सकते हैं. ऐसे लोगों में एक पीएम नरेंद्र मोदी भी हैं. मुझे लगता है कि अगर आप मोदीजी को भगवान के बगल में बिठा दें, तो मोदी जी भगवान को ये समझाने लगेंगे कि ये ब्रह्मांड कैसे काम करता है. और भगवान भी भ्रमित हो जाएँगे कि मैंने क्या बनाया है. ये मज़ेदार बातें हैं लेकिन यही हो रहा है.”

राहुल गांधी ने कहा कि भारत में लोगों का एक ग्रुप ऐसा है, जिन्हें लगता है कि वे सब चीज़ें जानते हैं।

https://twitter.com/SupriyaShrinate/status/1663795877046263808?s=20

उन्होंने कहा – “ये लोग वैज्ञानिकों को विज्ञान समझा सकते हैं, इतिहासकारों को इतिहास समझा सकते हैं और सेना को हथियारों के बारे में समझा सकते हैं. लेकिन दरअसल वे कुछ भी नहीं समझते. क्योंकि जीवन में आप कुछ भी नहीं समझ सकते, अगर आप सुनने को तैयार नहीं हो.”

भारतीय मूल के लोगों को संबोधित करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि भारत ने किसी विचार को ख़ारिज नहीं किया है।

https://twitter.com/AskAnshul/status/1663787682026393600?s=20

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कहा कि BJP में सवालों की जगह नहीं – “ये यही भारत है, जिसका आप प्रतिनिधित्व करते हो. अगर आप इन मूल्यों से सहमत नहीं रहते, तो आप यहाँ नहीं होते. अगर आप ग़ुस्सा, नफ़रत और घमंड में भरोसा करते, तो आप बीजेपी की एक मीटिंग में बैठे होते और मैं ‘मन की बात’ कर रहा होता.”

राहुल गांधी ने ये भी कहा कि बीजेपी में सवालों की जगह नहीं, वहाँ सिर्फ़ जवाब होते हैं।

कुछ महीने पहले राहुल गांधी की ब्रिटेन यात्रा को लेकर भारत में काफ़ी बवाल हुआ था। बीजेपी ने उन पर ये आरोप लगाया था कि वे विदेशी ज़मीन पर भारतीय लोकतंत्र का अपमान किया था। हालाँकि राहुल गांधी और कांग्रेस पार्टी ने इसका खंडन किया था। उस समय राहुल गांधी कांग्रेस के सांसद थे। अब वे सांसद नहीं हैं। क्योंकि आपराधिक मानहानि के एक मामले में उन्हें दो साल की सज़ा सुनाई गई है। जिसके बाद उनकी लोकसभा की सदस्यता ख़त्म कर दी गई थी।

राहुल गांधी ने इस फ़ैसले को अदालत में चुनौती दी और ये मामला अदालत के विचाराधीन है। राहुल गांधी केरल के वायनाड से सांसद थे। उनकी सदस्यता जाने के बावजूद भी अभी ये सीट ख़ाली है। राहुल गांधी ने अपनी भारत जोड़ो यात्रा का भी ज़िक्र किया और आरोप लगाया कि इसे रोकने की काफ़ी कोशिश की गई।

राहुल गांधी ने कहा – “सरकार ने भारत जोड़ो यात्रा को रोकने के लिए अपनी पूरी ताक़त लगा दी. बीजेपी लोगों को डरा रही है और सरकारी एजेंसियों का दुरुपयोग कर रही है. लेकिन कुछ भी काम नहीं आया और यात्रा का प्रभाव और बढ़ गया. ऐसा इसलिए हुआ क्योंकि भारत जोड़ो का विचार सबके दिल में हैं.”

BJP और RSS पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि भारत जोड़ो यात्रा इसलिए शुरू हुई क्योंकि लोगों को जोड़ने के लिए जिन चीज़ों की आवश्यकता होती है, उन सबका नियंत्रण बीजेपी और आरएसएस कर रही हैं।

राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा सात सितंबर 2022 को कन्याकुमारी से शुरू हुई थी और इसका समापन 30 जनवरी को श्रीनगर में हुआ था। इस यात्रा के दौरान राहुल गांधी ने तीन हज़ार किलोमीटर से ज़्यादा की दूरी तय की। सैन फ़्रांसिस्को में राहुल गांधी ने जातीय जनगणना को लेकर अपनी पार्टी की मांग दोहराई। उन्होंने कहा कि ये समाज के एक्सरे की तरह होगा और इससे जाति के आधार पर भेदभाव का स्तर सामने आएगा।

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने आरोप लगाया कि बीजेपी और आरएसएस संविधान पर हमला कर रही है। उन्होंने कहा कि वे देश को जाति और धर्म के आधार पर बाँटने की कोशिश कर रहे हैं।

https://twitter.com/INCIndia/status/1663774622679203841?s=20

उन्होंने कहा – ग़रीब और अल्पसंख्यक समुदाय के लोग आज असहाय महसूस कर रहे हैं। भारतीय एक-दूसरे से नफ़रत करने में भरोसा नहीं करते. लेकिन लोगों का एक छोटा ग्रुप, जो सिस्टम को नियंत्रित करता है और मीडिया नफ़रत की आग को भड़का रहा है।

राहुल गांधी ने ये भी कहा कि मोदी और उनकी सरकार बेरोज़गारी, बढ़ती क़ीमत, नाराज़गी और नफ़रत का प्रसार और गिरती शिक्षा व्यवस्था को रोक नहीं पा रही है।

उन्होंने लोगों को संबोधित करते हुए कहा- क्या आप इससे ख़ुश नहीं है कि मैं झुक नहीं रहा हूँ।

Must Read

Latest News

देश के शीर्ष नेताओ मे धामी का नाम सुखद, भाजपा के विकास के दावों पर मुहर- चौहान

देहरादून। भाजपा ने देश के प्रभावशाली लोगों की सूची मे उत्तराखंड के युवा मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के नाम उभरकर सामने आने को सुखद बताया और

अनुपयोगी घाटियां व जमीनों में उगायी जाएगी मंडुआ, झंगोरा एवं चौलाई

देहरादून।  मुख्य सचिव श्रीमती राधा रतूड़ी ने मंडुआ, झंगोरा व चौलाई का उत्पादन बढ़ाने तथा सप्लाई चेन को बेहतर करने के सम्बन्ध में गुरूवार को

रायपुर : मुख्यमंत्री से रायपुर प्रेस क्लब के नवनिर्वाचित पदाधिकारियों ने की सौजन्य मुलाकात

रायपुर, मुख्यमंत्री श्री विष्णु देव साय से आज यहाँ राज्य अतिथि गृह पहुना में रायपुर प्रेस क्लब के नवनिर्वाचित पदाधिकारियों ने सौजन्य मुलाकात की। उन्होंने