Thelokjan

site logo

Lucknow News : टैक्स कमिश्नर की पत्नी पर GST चोरी का आरोप

उत्तर प्रदेश | जीएसटी विभाग के ज्वाइंट कमिश्नर की पत्नी पर टैक्स चोरी का आरोप लगा है। बताया जा रहा है कि लखनऊ मुख्यालय में तैनात राजेश प्रताप सिंह चंदेल की पत्नी गीतिका सिंह ट्यूलिप किड्स फ्रेंचाइजी की स्कूल चलाती है। इसके लिए वह हर साल फ्रेंचाइजी को 25 लाख रुपए का भुगतान करती है। अब इस 25 लाख रुपए पर जीएसटी टैक्स उनकी तरफ से नहीं दिया जाता है। बताया जा रहा है कि पिछले काफी साल से यह खेल चल रहा है। इसकी विभागीय शिकायत की गई लेकिन पत्नी के रसूख की वजह से वहां भी गलत रिपोर्ट तैयार कर दी गई। अब इस पूरे मामले में सीएम योगी आदित्यनाथ के यहां लिखित शिकायत कर गुहार लगाई गई है।

गोमती नगर के विशाल खंड निवासी वंदना तिवारी ने लिखित शिकायत में बताया है कि विभाग से रजिस्ट्रेशन भी प्राप्त नहीं किया गया है। क्योंकि मामला ज्वाइंट कमिश्नर की पत्नी का है तो शिकायत मिलने के बाद भी टैक्स डिपार्टमेंट के सारे अधिकारी कार्रवाई करने से बच रहे हैं। वंदना तिवारी ने मुख्यालय की एडिशनल कमिश्नर भारतीय योगेश पर भी आरोप लगाया है कि उनकी तरफ से विभाग को भ्रमित किया गया है। उनको विभाग की तरफ से इस मामले में रिपोर्ट देने के लिए कहा गया था लेकिन उन्होंने अपनी वह रिपोर्ट भी गलत दी है।

बताया जा रहा है कि भारतीय योगेश ने तथ्यों को गलत तरीके से पेश किया है। इसमें उनकी तरफ से जांच खारिज कर दिया गया था। इसके पीछे दलील दी गई थी जो शिकायत है उसमें स्कूल का कोई एड्रेस नहीं है। जबकि शिकायत में उनके आयकर की डिटेल, पैन नंबर और पता उपलब्ध कराया था। वंदना तिवारी ने एडीशनल कमिश्नर भारतीय योगेश की मंशा पर सवाल उठाते हुए कहा कि उन्होंने गूगल और विभागीय पोर्टल पर स्कूल की तलाश की, जबकि शिकायती पत्र में स्पष्ट रूप से लिखा गया था कि यह विवरण आयकर रिटर्न में घोषित है। ऐसे में आयकर विभाग से इसकी सूचना क्यों नहीं मांगी गई।

वंदना तिवारी ने एडीशनल कमिश्नर भारती योगेश पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा है कि वह गीतिका सिंह चंदेल द्वारा की जा रही टैक्स चोरी का समर्थन कर रही हैं। इतने सारे सबूतों के बावजूद भी इस मामले का बंद कर दिया गया। सीएम मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से शिकायत करते हुए दोषियों पर कार्रवाई की मांग की गई है।

वंदना तिवारी ने कहा है कि इतने प्रमाणों और आयकर में घोषणा के बाद भी स्कूल अस्तित्व में नहीं मिलता है तो यह मनी लॉन्ड्रिंग की श्रेणी में आता है। ऐसे में यह बेहद गंभीर मामला है जिस पर एफआईआर किया जाना बेहद जरूरी है। उन्होंने यह भी मांग की है कि फ्रेंचाइजी देने वाली संस्था पर भी टैक्स चोरी की संभावना है। ऐसे में उस संस्था की भी जांच की जाए।

ज्वाइंट कमिश्नर राजेश प्रताप सिंह चंदेल पर इसके पहले भी साजिश करने के कई गंभीर आरोप लग चुके हैं। वंदना तिवारी इसी विभाग से रिटायर हुइ है। उन्होने पहले भी राजेश सिंह पर आरोप लगाए है। बताया कि वंदना तिवारी ने राजेश प्रताप सिंह चंदेल पर आरोप लगाया था कि उन्होंने उनसे ‘अच्छे रिटायरमेंट’ के नाम पर 5 लाख रुपए मांगे थे। वंदना तिवारी ने बताया कि उन्होंने जब राजेश प्रताप सिंह की डिमांड पूरी नहीं की तो उनके खिलाफ 12 साल पुराना एक प्रकरण खोल दिया गया था । उस मामले में एक महिला ने फर्जी प्रपत्रों के आधार पर आरोप लगाया था। जिसकी जांच महिला आयोग द्वारा की गई थी। जांच में अनियमितता नहीं पाए जाने पर केस को खत्म कर दिया गया था।

वंदना तिवारी ने आरोप लगाया कि रिटायरमेंट के बाद साजिश कर मुझे बुढ़ापे में परेशान किया जा रहा है। उन्होंने इस संबंध में गोमतीनगर थाने पर एफआईआर दर्ज किए जाने की भी अपील की है। उन्होंने अपने शिकायत पत्र में राजेश प्रताप सिंह चंदेल के अलावा अयोध्या के एडिशनल कमिश्नर ग्रेड-1 सूर्य नारायण सिंह, वाणिज्य कर मुख्यालय के एडीशनल कमिश्नर (विधि) एसके राय, वाणिज्य कर मुख्यालय में डिप्टी कमिश्नर (परिवाद) के पद पर तैनात रहे शिशिर प्रकाश पर उत्पीडऩ किए जाने का आरोप लगाया है। उन्होंने इस मामले में चारों साजिशकर्ता ऊपर कार्रवाई किए जाने की भी मांग की है।

 

Must Read

Latest News

रायपुर : मुख्यमंत्री से रायपुर प्रेस क्लब के नवनिर्वाचित पदाधिकारियों ने की सौजन्य मुलाकात

रायपुर, मुख्यमंत्री श्री विष्णु देव साय से आज यहाँ राज्य अतिथि गृह पहुना में रायपुर प्रेस क्लब के नवनिर्वाचित पदाधिकारियों ने सौजन्य मुलाकात की। उन्होंने

मुख्यमंत्री ने कृषि विभाग में सहायक लेखाकार के पद पर चयनित 67 अभ्यर्थियों को दिए नियुक्ति पत्र, बोल- उत्तराखंड को बनाएं सर्वश्रेष्ठ राज्य

 उत्तराखंड। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने शुक्रवार को मुख्यमंत्री आवास परिसर में आयोजित नियुक्ति पत्र वितरण समारोह में लोक सेवा आयोग के माध्यम से कृषि विभाग